मक्का

Zea mays


पानी देना
मध्यम

जुताई
प्रत्यक्ष बीजारोपण

कटाई
70 - 110 दिन

श्रम
मध्यम

सूरज की रोशनी
आधा शेड

pH मान
5 - 7

तापमान
28°C - 41°C

उर्वरण
मध्यम


मक्का

परिचय

मकई, जिसे मक्का के नाम से भी जानते हैं, पोएसी परिवार का एक दानेदार अनाज है। इसे दक्षिणी मेक्सिको में लगभग 10,000 साल पहले घरेलू ज़रूरतों के लिए उगाना शुरू किया गया था, और मौसम की विभिन्न परिस्थितियों में इसके उपजने की क्षमता के कारण पिछले 500 वर्षों में शेष विश्व मे इसका प्रसार हुआ। मकई एक खाद्य फ़सल मानी जाती है और यह भोजन, चारे और ईंधन के रूप में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

सलाहकार

उपयोगी सुझावों को ब्राउज़ करने के लिए अपने विकास चरण का चयन करें!

अपने सीजन की तैयारी

बुवाई से पहले शुरुआती उर्वरक आपूर्ति (10-15 दिन)
अपने खेत की नियमित रूप से निराई करें

देखभाल

देखभाल

जब आपके पौधे लगभग 8 से 10 मीटर ऊँचे हों, तो उनकी छंटाई कर कम घना बनाएं, जिससे वे एक दूसरे से 20 से 30 सेंटीमीटर की दूरी पर रहें। ध्यान रखें कि निराई करते समय जड़ों को नुकसान न पहुँचे। सुनिश्चित करें कि मिट्टी अच्छी जलनिकासी वाली हो तथा नमी का एक समान स्तर बनाये रखने में समर्थ हो। शुष्क परिस्थितियों में यह आवश्यक है कि पौधों को पानी दिया जाए ताकि उथली जड़ों को नम बनाये रखना सुनिश्चित हो सके।

मिट्टी

ज़ी मेज़ (मकई) अच्छी जलनिकासी वाली और उपजाऊ चिकनी या कछार की मिट्टी में सबसे अच्छी तरह उगती है। हालांकि, मकई को बलुही से लेकर दोमट तक विविध प्रकार की मिट्टी में उगाना सम्भव है। यह फ़सल मिट्टी की अम्लता के प्रति सहनशील होती है। मिट्टी की अम्लता को चूने का प्रयोग करके निष्क्रिय करने से उपज बढ़ाई जा सकती है।

जलवायु

मकई को पूरे विश्व मे उगाए जाने का एक कारण यह है कि यह विविध कृषि-जलवायु परिस्थितियों में उगने की क्षमता रखता है। हालांकि, मध्यम तापमान और वर्षा इसकी फ़सल के लिए सबसे अनुकूल होते हैं।

संभावित बीमारियां

उस अवधि के दौरान आपकी फसल को खतरा पैदा करने वाली बीमारियों को देखने के लिए किसी एक विकास चरण का चयन करें।

मक्का

मक्का

इसके विकास से जुड़ी सभी बाते प्लांटिक्स द्वारा जानें!

अभी डाउनलोड करें

मक्का

Zea mays

मक्का

प्लांटिक्स एप के साथ स्वस्थ फसलें उगाएं और अधिक उपज प्राप्त करें!

अभी प्लांटिक्स का उपयोग करें!

परिचय

मकई, जिसे मक्का के नाम से भी जानते हैं, पोएसी परिवार का एक दानेदार अनाज है। इसे दक्षिणी मेक्सिको में लगभग 10,000 साल पहले घरेलू ज़रूरतों के लिए उगाना शुरू किया गया था, और मौसम की विभिन्न परिस्थितियों में इसके उपजने की क्षमता के कारण पिछले 500 वर्षों में शेष विश्व मे इसका प्रसार हुआ। मकई एक खाद्य फ़सल मानी जाती है और यह भोजन, चारे और ईंधन के रूप में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

मुख्य तथ्य

पानी देना
मध्यम

जुताई
प्रत्यक्ष बीजारोपण

कटाई
70 - 110 दिन

श्रम
मध्यम

सूरज की रोशनी
आधा शेड

pH मान
5 - 7

तापमान
28°C - 41°C

उर्वरण
मध्यम

मक्का

मक्का

इसके विकास से जुड़ी सभी बाते प्लांटिक्स द्वारा जानें!

अभी डाउनलोड करें

सलाहकार

उपयोगी सुझावों को ब्राउज़ करने के लिए अपने विकास चरण का चयन करें!

अपने सीजन की तैयारी

बुवाई से पहले शुरुआती उर्वरक आपूर्ति (10-15 दिन)
अपने खेत की नियमित रूप से निराई करें

देखभाल

देखभाल

जब आपके पौधे लगभग 8 से 10 मीटर ऊँचे हों, तो उनकी छंटाई कर कम घना बनाएं, जिससे वे एक दूसरे से 20 से 30 सेंटीमीटर की दूरी पर रहें। ध्यान रखें कि निराई करते समय जड़ों को नुकसान न पहुँचे। सुनिश्चित करें कि मिट्टी अच्छी जलनिकासी वाली हो तथा नमी का एक समान स्तर बनाये रखने में समर्थ हो। शुष्क परिस्थितियों में यह आवश्यक है कि पौधों को पानी दिया जाए ताकि उथली जड़ों को नम बनाये रखना सुनिश्चित हो सके।

मिट्टी

ज़ी मेज़ (मकई) अच्छी जलनिकासी वाली और उपजाऊ चिकनी या कछार की मिट्टी में सबसे अच्छी तरह उगती है। हालांकि, मकई को बलुही से लेकर दोमट तक विविध प्रकार की मिट्टी में उगाना सम्भव है। यह फ़सल मिट्टी की अम्लता के प्रति सहनशील होती है। मिट्टी की अम्लता को चूने का प्रयोग करके निष्क्रिय करने से उपज बढ़ाई जा सकती है।

जलवायु

मकई को पूरे विश्व मे उगाए जाने का एक कारण यह है कि यह विविध कृषि-जलवायु परिस्थितियों में उगने की क्षमता रखता है। हालांकि, मध्यम तापमान और वर्षा इसकी फ़सल के लिए सबसे अनुकूल होते हैं।

संभावित बीमारियां

उस अवधि के दौरान आपकी फसल को खतरा पैदा करने वाली बीमारियों को देखने के लिए किसी एक विकास चरण का चयन करें।