आम

Mangifera indica


पानी देना
मध्यम

जुताई
प्रतिरोपित

कटाई
1 - 365 दिन

श्रम
मध्यम

सूरज की रोशनी
पूर्ण सूर्य

pH मान
5.5 - 7.5

तापमान
0°C - 0°C

उर्वरण
उच्च


आम

परिचय

आम के फल का बहुत आर्थिक महत्व होता है और यह अपने अच्छे स्वाद और कई प्रकार की किस्मों के कारण उपभोक्ताओं में बहुत लोकप्रिय है। इसमें पोषकीय रूप से विटामिन A और C प्रचुरमात्रा में होते हैं। आम के पेड़ की लकड़ी को फर्नीचर और धार्मिक कामों के लिए भी उपयोग किया जाता है। पत्तियों को चारे के रूप में जानवरों को खिलाया जा सकता है।

देखभाल

देखभाल

अगर संभव हो तो, अपनी पसंदीदा प्रजाति के पेड़ से आम के पौधों को उगाएँ। नर्सरी से रोपाई करते समय, जड़ तंत्र को ज़्यादा से ज़्यादा संपूर्ण रखना महत्वपूर्ण होता है। हल्की लेकिन लगातार सिंचाई की सलाह दी जाती है। रासायनिक उर्वरकों की तुलना में जैविक खाद भी आम की वृद्धि में अधिक लाभकारी पाई गई है। आम को मनचाहा आकार देने के लिए पौधे की छटाई महत्वपूर्ण है। वृद्धि के पहले 3-4 वर्षों में नियमित रूप से छँटाई की जानी चाहिए। हालाँकि, पेड़ की प्राकृतिक रूप से गुंबद नुमा वृद्धि के कारण वार्षिक छँटाई जरुरी नहीं होती है। फलों की कटाई के दौरान चोट से बचने के लिए अत्यधिक सावधानी बरतनी चाहिए।

मिट्टी

आम को कई प्रकार की मिट्टी में सफलतापूर्वक उगा सकते हैं, जिसमें से लाल दोमट मिट्टी अनुकूलतम है। मिट्टी में पानी को अच्छे से रोके रखने की क्षमता होनी चाहिए, लेकिन कम-जल निकासी वाली मिट्टी वृद्धि को सीमित कर देगी। गहरी (1.2 मीटर से अधिक), कार्बनिक पदार्थों वाली जलोढ़ मिट्टी में सबसे अच्छी वृद्धि होगी। इन कारणों से, पहाड़ों की बजाय मैदानी इलाकों में खेती करना पसंद किया जाता है।

जलवायु

आम उष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में अच्छी तरह से उगता है लेकिन गंभीर गर्मी और ठंड दोनों के प्रति अत्यधिक संवेदनशील होता है। फसल के चरणों में वर्षा के वितरण में भिन्नता सफल पैदावार के लिए बहुत जरुरी है। उदाहरण के लिए, फूलों के खिलने पर परागण के लिए शुष्क मौसम अच्छा होता है, जबकि बारिश का मौसम फलों के विकास में सहायता करता है। तेज हवाओं से आम के पेड़ों को नुकसान पहुँच सकता है।

संभावित बीमारियां

उस अवधि के दौरान आपकी फसल को खतरा पैदा करने वाली बीमारियों को देखने के लिए किसी एक विकास चरण का चयन करें।

आम

आम

इसके विकास से जुड़ी सभी बाते प्लांटिक्स द्वारा जानें!

अभी डाउनलोड करें

आम

Mangifera indica

आम

प्लांटिक्स एप के साथ स्वस्थ फसलें उगाएं और अधिक उपज प्राप्त करें!

अभी प्लांटिक्स का उपयोग करें!

परिचय

आम के फल का बहुत आर्थिक महत्व होता है और यह अपने अच्छे स्वाद और कई प्रकार की किस्मों के कारण उपभोक्ताओं में बहुत लोकप्रिय है। इसमें पोषकीय रूप से विटामिन A और C प्रचुरमात्रा में होते हैं। आम के पेड़ की लकड़ी को फर्नीचर और धार्मिक कामों के लिए भी उपयोग किया जाता है। पत्तियों को चारे के रूप में जानवरों को खिलाया जा सकता है।

मुख्य तथ्य

पानी देना
मध्यम

जुताई
प्रतिरोपित

कटाई
1 - 365 दिन

श्रम
मध्यम

सूरज की रोशनी
पूर्ण सूर्य

pH मान
5.5 - 7.5

तापमान
0°C - 0°C

उर्वरण
उच्च

आम

आम

इसके विकास से जुड़ी सभी बाते प्लांटिक्स द्वारा जानें!

अभी डाउनलोड करें

सलाहकार

देखभाल

देखभाल

अगर संभव हो तो, अपनी पसंदीदा प्रजाति के पेड़ से आम के पौधों को उगाएँ। नर्सरी से रोपाई करते समय, जड़ तंत्र को ज़्यादा से ज़्यादा संपूर्ण रखना महत्वपूर्ण होता है। हल्की लेकिन लगातार सिंचाई की सलाह दी जाती है। रासायनिक उर्वरकों की तुलना में जैविक खाद भी आम की वृद्धि में अधिक लाभकारी पाई गई है। आम को मनचाहा आकार देने के लिए पौधे की छटाई महत्वपूर्ण है। वृद्धि के पहले 3-4 वर्षों में नियमित रूप से छँटाई की जानी चाहिए। हालाँकि, पेड़ की प्राकृतिक रूप से गुंबद नुमा वृद्धि के कारण वार्षिक छँटाई जरुरी नहीं होती है। फलों की कटाई के दौरान चोट से बचने के लिए अत्यधिक सावधानी बरतनी चाहिए।

मिट्टी

आम को कई प्रकार की मिट्टी में सफलतापूर्वक उगा सकते हैं, जिसमें से लाल दोमट मिट्टी अनुकूलतम है। मिट्टी में पानी को अच्छे से रोके रखने की क्षमता होनी चाहिए, लेकिन कम-जल निकासी वाली मिट्टी वृद्धि को सीमित कर देगी। गहरी (1.2 मीटर से अधिक), कार्बनिक पदार्थों वाली जलोढ़ मिट्टी में सबसे अच्छी वृद्धि होगी। इन कारणों से, पहाड़ों की बजाय मैदानी इलाकों में खेती करना पसंद किया जाता है।

जलवायु

आम उष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में अच्छी तरह से उगता है लेकिन गंभीर गर्मी और ठंड दोनों के प्रति अत्यधिक संवेदनशील होता है। फसल के चरणों में वर्षा के वितरण में भिन्नता सफल पैदावार के लिए बहुत जरुरी है। उदाहरण के लिए, फूलों के खिलने पर परागण के लिए शुष्क मौसम अच्छा होता है, जबकि बारिश का मौसम फलों के विकास में सहायता करता है। तेज हवाओं से आम के पेड़ों को नुकसान पहुँच सकता है।

संभावित बीमारियां

उस अवधि के दौरान आपकी फसल को खतरा पैदा करने वाली बीमारियों को देखने के लिए किसी एक विकास चरण का चयन करें।