- मक्का

मक्का मक्का

मकई का राख जैसा कवक रोग (स्मट)

फफूंद

Ustilago maydis


संक्षेप में

  • अंकुरण चरण में पौधे का विकास अवरुद्ध हो जाता है और हो सकता है कि वह पुष्पक्रम या बालियों का उत्पादन न करे.
  • पुराने पौधों पर, संक्रमण के कारण बालियों पर काली राख से भरे घाव का निर्माण होता है.
  • जब वह फटते हैं, तो एक पाउडर जैसी काली सामग्री दिखती है.
  • पत्तियों पर, फोड़ों जैसी वृद्धियां सामान्य रूप से छोटी रहती हैं और बिना फटे सूख जाती हैं।.
 - मक्का

मक्का मक्का

लक्षण

पौधे के सभी सक्रिय रूप से बढ़ते हिस्से कवक से संक्रमित हो सकते हैं। चोटों के प्रति संवेदनशीलता और उनकी वृद्धि की क्षमता उन्हें सबसे नाटकीय लक्षण दिखाने के लिए उन्मुख बना देती है। अंकुरण चरण में पौधे संक्रमण के प्रति अतिसंवेदनशील होते हैं। इन मामलों में, पौधों की वृद्धि अवरुद्ध हो जाती है और वे फूलों या बालियों का उत्पादन नहीं कर पाते हैं। पुराने पौधों पर, संक्रमण के कारण फोड़े नज़र आते हैं, जो धारक और कवक ऊतकों का संयोजन होते हैं। पाउडर और राख के घाव अपने प्रारंभिक दौर में हरे सफ़ेद होते हैं और परिपक्व होते हुए काले पड़ जाते हैं। ये विशेष रूप से बालियों पर नज़र आते हैं, जहां प्रत्येक दाना अपना ही घाव विकसित कर सकता है। फटने पर, वे एक पाउडर जैसी काली सामग्री दिखाते हैं। पत्तियों पर, फोड़े सामान्य रूप से छोटे रहते हैं और बिना फटे सूख जाते हैं।

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!

प्रभावित फसलें

ट्रिगर

मकई का आम स्मट कवक उस्तिलागो मेडिस के कारण होता है, जो कई वर्षों तक मिट्टी में जीवित रह सकता है। बीजाणु पौधों तक हवा, मिट्टी की धूल और बारिश की बौछार के साथ फैल जाते हैं। संक्रमण की प्रक्रिया को चोटों की उपस्थिति से लाभ होता है, जैसे कि कीड़े, जानवर, खेती की खराब पद्धतियाँ या ओलों से होने वाली चोटें। एक पौधे से दूसरे पौधे तक कोई सीधे रूप से फैलाव नहीं होता है। लक्षण विशेष रूप से वृद्धि क्षमता वाले ऊतकों में (जैसे बालियों या वृद्धि के बिंदुओं परे) गंभीर होते हैं। मौसम की अत्यधिकता के कारण पराग के कम उत्पादन और खराब परागण दर (जैसे, भारी बारिश के बाद सूखे की स्थिति) कवक के फैलाव के लिए अनुकूल हैं।

जैविक नियंत्रण

कवक को सीधे नियंत्रित करना मुश्किल है और इस रोगजनक कवक के खिलाफ़ कोई भी प्रभावी तरीका विकसित नहीं किया गया है।

रासायनिक नियंत्रण

हमेशा जब संभव हो, जैविक उपचार के साथ निवारक उपायों के एकीकृत दृष्टिकोण पर विचार करें। मकई में आम स्मट या राख जैसे कवक के संक्रमण की घटनाएं बीज और पत्तियों पर कवकनाशक लगाने से कम नहीं होती हैं।

निवारक उपाय

  • यदि उपलब्ध हो, तो सहिष्णु किस्मों की खेती करें.
  • पौधों के बीच चौड़ा स्थान रखना सुनिश्चित करें.
  • गाढ़े कवक के बीजाणुओं के छोड़े जाने से पहले घाव पर निगरानी रखें, उन्हें इकट्ठा करें और नष्ट कर दें.
  • कीड़ों और अन्य कीटों से होने वाली क्षति से बचाएं.
  • खेती के काम के दौरान फ़सलों को नुकसान पहुंचाने से बचें.
  • नाइट्रोजन के अत्यधिक उर्वरीकरण से बचें.
  • फ़सल काटने के बाद सभी अवशेषों को निकालें और पौधे के संक्रमित हिस्सों का खाद न बनाएं.
  • गैर-धारक पौधों के साथ दीर्घकालिक फ़सल चक्रीकरण की योजना बनाएं.
  • सुनिश्चित करें कि औज़ार और उपकरण साफ़ हों.
  • फ़सल काटने के बाद पौधे के मलबे को दफ़नाने के लिए गहराई से जुताई करें।.

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!