- अरहर और तुअर दाल

अरहर और तुअर दाल अरहर और तुअर दाल

स्टेरिलिटी मोज़ेक

वाइरस

PPSMV


संक्षेप में

  • पत्तियों पर हल्के और गहरे हरे चितकबरे स्वरूप दिखाई देते हैं.
  • पौधे बिना फूलों और फलियों के झाड़ीनुमा हो जाते हैं।.
 - अरहर और तुअर दाल

अरहर और तुअर दाल अरहर और तुअर दाल

लक्षण

रोग के शुरुआती चरण में, नई पत्तियों की शिराएं हल्की हरी हो जाती हैं। बाद में, हल्के और गहरे हरे रंग का चितकबरा स्वरूप बन जाता है। पौधे झाड़ीनुमा हो जाते हैं और फूल या फलियाँ नहीं बनती हैं। पत्तियों का आकार कम हो जाता है।

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!

प्रभावित फसलें

ट्रिगर

विषाणु एरियोफ़ाइड घुन से फैलता है। संक्रमण का ख़तरा तब बढ़ता है जब अरहर को बाजरा या जौ के साथ उगाया जाता है। गर्म और सूखे दिनों में लक्षण दबे रहते हैं।

जैविक नियंत्रण

फसल काटने के बाद पौधे के सभी प्रभावित अवशेषों को साफ़ कर दें। विषाणु का आगे फैलाव रोकने के लिए आपको संक्रमित पौधों को शुरुआती चरण में ही जड़ से उखाड़कर नष्ट कर देना चाहिए।

रासायनिक नियंत्रण

घुनों को मारने के लिए आप केल्थेन, टेडियॉन जैसे कुटकीनाशक 1 मिली. प्रति ली. पानी की दर से इस्तेमाल कर सकते हैं।

निवारक उपाय

  • घुनों की आबादी काबू में रखें।.

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!