- आम

आम आम

आम पर जीवाणु के कारण काला धब्बा (बैक्टीरियल ब्लैक स्पॉट)

बैक्टीरिया

Xanthomonas citri pv. mangiferaeindicae


संक्षेप में

  • पत्तियों पर, काले, पानी सोखे हुए धब्बे.
  • ये धब्बे, बाद में सूख जाते हैं और हल्के भूरे या राख जैसे भूरे रंग के हो जाते हैं.
  • शीघ्र झड़ना.
  • फलों में छोटे गड्ढों से चिपचिपा रस निकलना।.
 - आम

आम आम

लक्षण

आम के बैक्टीरियल ब्लैक स्पॉट के मुख्य लक्षण पत्तियों और फलों पर दिखाई देते हैं, लेकिन गंभीर मामलों में टहनियाँ और शाखाएं भी प्रभावित हो सकती हैं। शुरू में, पत्तियों पर छोटे काले और पानी से लथपथ घाव होते हैं। ये धब्बे हरितहीन किनारों से घिरे हुए और नसों द्वारा सीमित रहते हैं। जैसे-जैसे बीमारी बढ़ती है, धब्बे सूख जाते हैं और पत्तियां गिर सकती हैं, और पतझड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है। प्रारंभिक चरणों में, पानी से लथपथ, हल्के धब्बे संक्रमित फलों पर दिखाई देते हैं। बाद में, वे संक्रामक गोंद स्रावित करने वाले गहरे रंग के सितारे के आकार के गड्ढों में विकसित हो जाते हैं, जो अवसरवादी रोगजनकों को आकर्षित करते हैं। हल्का संक्रमण फल की गुणवत्ता कम करता है, जबकि गंभीर रूप से संक्रमित फल गिर सकते हैं। टहनियों और तने पर घाव उत्पन्न होकर उन्हें गाढ़े रंग का करके दरारें पैदा कर सकते हैं, जो पेड़ की स्थिरता को कम करता है।

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!

प्रभावित फसलें

ट्रिगर

यह रोग जीवाणु, ज़ेंथोमोनास सिट्रि, के एक प्रकार के कारण होता है। यह जीवित ऊतकों में 8 महीने तक जीवित रह सकता है। यह घावों और प्राकृतिक प्रवेश बिंदुओं के माध्यम से पेड़ों को संक्रमित करता है। रोगजनक पेड़ से पेड़ तक या खेतों के बीच हवा से चलने वाली बारिश से या छंटाई जैसी प्रबंधन की गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले औज़ारों के माध्यम से फैल सकता है। इसके अलावा, संक्रमित पौधों की सामग्री या फलों के मामले में संपर्क के माध्यम से यह फैलता है। बैक्टीरियल ब्लैक स्पॉट के संक्रमण के लिए सबसे अनुकूल तापमान 25 और 30 डिग्री सेल्सियस के बीच है। उच्च आर्द्रता भी संक्रमण को बढ़ावा देती है। बागीचे के चारों ओर विंडब्रेक (हवा से बचाने के लिए लगाई गई कोई चीज़) या घने पर्णसमूह वाली पेड़ की प्रजातियों के रोपण से रोग का प्रसार कम हो सकता है।

जैविक नियंत्रण

कॉपर ऑक्सीक्लोराइड युक्त उत्पादों का नियमित छिड़काव संक्रमण को रोकने और घटाने में प्रभावी साबित हुआ है। संक्रमित पेड़ों पर एसिटोबोबैक्टेर ब्यूमनी जैसे बायोकेन्ट्रोल एजेंट भी एक्स. सिट्री की आबादी को प्रभावी ढंग से कम कर सकते हैं।

रासायनिक नियंत्रण

यदि उपलब्ध हो, तो जैविक उपचार के साथ निवारक उपायों के एकीकृत दृष्टिकोण पर हमेशा विचार करें। आम के बैक्टीरियल ब्लैक स्पॉट को नियंत्रित करने के लिए थियोफ़ेनेट-मिथाइल या बेंज़िमिडाज़ोल युक्त स्प्रे का उपयोग किया जा सकता है।

निवारक उपाय

  • रोपण और कलम के लिए स्वस्थ सामग्री का उपयोग करें.
  • काम करने के उपकरणों और औजारों को कीटाणु रहित करें.
  • यदि उपलब्ध हो, तो प्रतिरोधी किस्मों का उपयोग करें.
  • पेड़ों के लिए अच्छा वायु संचालन सुनिश्चित करें.
  • नियमित रूप से संक्रमित टहनियों, शाखाओं और फलों को हटाएं.
  • बागीचे में काम के दौरान आम के पेड़ को यांत्रिक क्षति पहुँचाने से बचें.
  • उन्हें तेज़ हवाओं और भारी बारिश से बचाएं.
  • संक्रमित फल और पेड़ सामग्री को नष्ट कर दिया जाना चाहिए।.

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!