- केला

केला केला

केले का फीते जैसे पंख वाला कीट

कीट

Stephanitis typica


संक्षेप में

  • पत्तियों के निचले हिस्से में वयस्क और कीटडिंभों की बस्तियाँ पाई जा सकती हैं.
  • भोजन से हुई क्षति पत्तियों के ऊपरी हिस्से पर छोटे, सफ़ेद, हरितहीन धब्बों के रूप में दिखाई देती है.
  • गाढ़े रंग का अर्क पत्तियों के निचले हिस्से पर पाया जा सकता है.
  • जिन हिस्सों में बस्तियाँ होती हैं, वे पीले और शुष्क हो जाते हैं.
  • संक्रमित पौधे अस्वस्थ और धब्बेदार नज़र आते हैं।.
 - केला

केला केला

लक्षण

संक्रमण पत्तियों पर दूरी से भी दिखाई देता है। वयस्क और कीटडिंभ पत्तों के निचले हिस्से पर स्थित होते हैं, जहाँ वे बस्तियाँ स्थापित करके पत्तियों का भोजन करते हैं। आमतौर पर, कीड़े मध्य शिरा के चारों ओर स्थित पत्ती के रस का भोजन करते हैं। भोजन के कारण क्षति पत्तियों के ऊपरी हिस्से पर छोटे, सफ़ेद, और हरितहीन धब्बों के रूप में दिखाई देती है। पत्तियों की निचली सतह पर कीटों के गाढ़े रंग के स्राव नज़र आते हैं। बस्तियों वाले हिस्से समय के साथ पीले से भूरे रंग के हो जाते हैं और सूख जाते हैं। वृक्ष अविकसित रह जाते हैं और बीमार प्रतीत होते हैं।

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!

प्रभावित फसलें

ट्रिगर

वयस्क पीले से सफ़ेद रंग के होते हैं और पारभासी, झालरनुमा फीते जैसे पंखों के साथ आकार में लगभग 4 मिमी के होते हैं। मादा भृंग पत्तियों के निचले हिस्से में लगभग 30 अंडे देती है। लगभग 12 दिनों के बाद पीले रंग के कीटडिंभ निकलते हैं। यह विकास चरण लगभग 13 दिनों चलता है। वर्तमान में, केले के फीते जैसे पंख वाले कीट के संक्रमण के कारण उपज नुकसान के बारे में कोई विस्तृत जानकारी उपलब्ध नहीं है। अभी तक, इस कीट के कारण केले के पौधों के गंभीर नुकसान की कोई सूचना नहीं है।

जैविक नियंत्रण

एक एकीकृत दृष्टिकोण में इस्तेमाल होने पर, स्टेथोकोनस प्रेफ़ेक्टस जैसे शिकारी कीट की प्रजातियां संक्रमण को कम कर सकती हैं। नीम तेल और लहसुन के एक पायस (2%) का उपयोग संक्रमण के नियंत्रण के लिए पत्तियों पर छिड़काव के रूप में किया जा सकता है।

रासायनिक नियंत्रण

हमेशा जैविक उपचार के साथ निवारक उपायों के एकीकृत दृष्टिकोण पर विचार करें। इस रोग से लड़ने का सबसे आम तरीक़ा कीटनाशकों का उपयोग है। डायमेथोएट युक्त उत्पादों को पत्तियों पर छिड़कने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इन्हें ऐसे छिड़कना चाहिए कि पत्तियों की निचली सतह उत्पाद से ढक जाए।

निवारक उपाय

  • यदि उपलब्ध हों, तो सहिष्णु या प्रतिरोधी किस्म लगाएं.
  • कीट के किसी भी लक्षण के लिए नियमित रूप से अपने पौधों या खेतों की जांच करें.
  • संक्रमण की प्रगति को रोकने के लिए खेत में पत्तियों के पहले प्रभावित बाहरी गुच्छे को अपने हाथों से तोड़कर नष्ट करें।.

मोबाइल फसल चिकित्सक की सहायता से अपनी उपज बढ़ाएं!

इसे अभी निशुल्क प्राप्त करें!